एक अप्रैल से लगेगा टैक्स चोरी पर अंकुश, शुरू होगी नेशनल ई-वे बिल व्यवस्था

232

हमीरपुर । आगामी एक अप्रैल से शुरू होने वाली ई-वे बिल व्यवस्था के लिये उत्तर प्रदेश में सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी है। टैक्स चोरी रोकने की कवायद के तहत शुरू की जा रही इस व्यवस्था में अब एक प्रांत से दूसरे प्रांत में माल ले जाने में व्यापारी को टैक्स इनवाइस(कर बीजक) के साथ साथ ई वे बिल यानी आन लाइन बिल लेकर चलना अनिवार्य होगा।

वाणिज्य कर विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर प्रदीप सिंह ने बताया कि अभी तक उत्तर प्रदेश और अन्य प्रान्तों से वाहनो में माल लेकर आने वाले व्यापारी टैक्स इनवाइस लेकर चलते थे यदि कोई जांच दल नही मिला तो उस इनवाइस को नष्ट कर देते थे। इससे टैक्स चोरी की घटनाएं बढ रही थी। जिससे राजस्व का नुकसान हो रहा था।

नयी व्यवस्था में अब व्यापारी की जो भी टैक्स इनवाइस बनेगी वह आनलाइन दिखायी पडेगी। कितना माल, माल की कीमत, टैक्स का उसमे साफ साफ बिवरण रहेगा। जैसे जांच दल वाहन संख्या देखेगा वह व्यापारी द्वारा टैक्स इनवाइस को कोई महत्व न देकर आनलाइन कर बीजक से सारा विवरण पढ लेगा।

इसके बाद भी टैक्स में कमी की गयी है तो उस पर पैनाल्टी लगाकर धन की वसूली की जाएगी। श्री सिंह ने बताया कि यदि व्यापारी चाहें तो अपने मोबाइल पर ई वे बिल का मैसेज लेकर चल सकते है जांच दल को मैसेज दिखाने के बाद जांच पड़ताल की जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.